Jan 13, 2019

Best Antivirus Kaise select kare use of antivirus in hindi


Antivirus choosing karte samay kya kya sawadhani rakhe  


आज मैं ऐसे कंप्यूटर यूजर्स के लिए एक बेहतरीन पोस्ट लेकर आया हूं जो बहुत ज्यादा अपने कंप्यूटर पर ऑनलाइन वर्क करते हैं और अपने कंप्यूटर के फाइल सॉफ्टवेयर डेटा को सुरक्षित करके रखना चाहते हैं. इस पोस्ट के द्वारा हम जानेंगे कि हम कैसे अपने कंप्यूटर के लिए best antivirus चुन सकते हैं.

use of antivirus kaise chune


अगर हम अपने कंप्यूटर के लिए बेस्ट एंटीवायरस नहीं चुनते हैं तो हमें कई तरह के नुकसान उठाना पढ़ सकता है इसलिए हम जब भी एंटीवायरस चुने अच्छी क्वालिटी का और कुछ विशेष बातों का ध्यान रखकर एंटीवायरस को चुने जिससे हमें कुछ नुकसान उठाना न पड़े और  हमारे कंप्यूटर्स के फाइल्स को, softwere को किसी भी तरह के हानि भी ना हो.

अगर आप जानना चाहते हैं कि एंटीवायरस लेते समय हमें क्या क्या सावधानियां बरतनी चाहिए तो आप मेरी इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़ें. मैं आपको इस पोस्ट के द्वारा ऐसे पॉइंट बताने वाला हूं जिसे जानकर आप अपने कंप्यूटर के लिए बेस्ट एंटीवायरस चुन सकते हैं और उसे अपने कंप्यूटर पर  इंस्टॉल कर सकते हैं.

एंटीवायरस लेते समय हमें कई तरह की जानकारियों को जानना बहुत ही जरूरी है क्योंकि मार्केट में ऐसे बहुत सारे एंटीवायरस आ गए हैं जिससे हमें प्रोटेक्शन अच्छे तरीके से नहीं मिलता है और हमारे कंप्यूटर में बहुत सारे error या virus आ जाते हैं और virus के वजह से कई परेशानियां उठानी पड़ जाती है.

Antivirus kya hai (what is a antivirus)


एंटीवायरस एक तरह से कंप्यूटर को वायरस से सुरक्षित करने वाला program है जिसकी मदद से कंप्यूटर के फाइल डिलीट होने से, malware atteck  होने से या कंप्यूटर हैंग होने से और डाटा चोरी होने से बचाने का काम यह एंटीवायरस करता है.

बेस्ट एंटीवायरस चुनने से हमारे कंप्यूटर की जानकारियां सुरक्षित रहती है कंप्यूटर अच्छे से चलता है इसलिए हमें एंटीवायरस खरीदते समय बेहतरीन एंटीवायरस को चुनना चाहिए.

आइये इसके और कुछ पॉइंट के बारे में जानते है 

Antivirus kis kaam me use me liya jaata hai


Computer me antivirus hone ke fayde


use of antivirus in hindi


computer में इसके होने से बहुत सारे फायदे होते है कुछ इस प्रकार से है-

➧इसके होने से computer system hang नहीं होता है slow भी नहीं होता है.

➧कंप्यूटर में store data या कोई जानकारी को internet से चोरी होने का दर नहीं रहता है.

➧इन्टरनेट के द्वारा softwere को ऑनलाइन download किया जाता सकता है risk की संभावना नहीं रहती है virus को install नहीं होने देता है.

➧pc file के corrupt होने की chance नहीं रहता है सभी file भी सिक्योर रहता है.अपना डाटा pc पर store करके रख सकते है.

➧Antivirus से computer को scan करके पता कर सकते है की इसमें कोई virus तो नहीं घुस गया पता चलने पर यह use नष्ट कर देता है.

Computer ya laptop me antivirus ke sampt hone par kya hota hai antivirus के समाप्त होने पर क्या होगा 

Antivirus nahi hone se kya hoga 


यह सवाल कभी कभी मन में आ जाता है की इसके date last होने के बाद क्या होता होगा. इसका जवाब यही है की ऊपर में जो जो security antivirus से मिलता है वह नहीं मिलेगा जैसे 

➧हमारे कंप्यूटर का डाटा सिक्योर नहीं होगा 

➧internet से file, softwere download करते समय virus भी download हो सकते है pc को नुकसान पंहुचा सकते है.

➧computer के फाइल automatic delete हो सकते है.

➧system hang और slow हो जायेगा. 

इसके अतिरिक्त और भी छोटे और बड़े प्रभाव pc पर देखने को मिलेगा अगर pc में antivirus नहीं है तो या उसका समय समाप्त हो गया है तो.  

इन्हें भी जाने -


बेहतरीन एंटीवायरस का चयन कैसे करें Best antivirus kaise chune yah kyo jaruri hai 



1.# कभी भी फ्री antivirus use मत करे

सबसे पहला पॉइंट यही है कि कभी भी हमें फ्री एंटीवायरस का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए अगर हम इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और इंटरनेट के द्वारा बहुत सारे फाइलों को डाउनलोड करते हैं तो हमें इंटरनेट से ऐसे फ्री एंटीवायरस को इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. किसी भी तरह से फ्री एंटीवायरस का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि फ्री एंटीवायरस हमें real time protection नहीं देते और इंटरनेट के  इस्तेमाल करने से उसके साथ साथ ही बहुत सारे मालवेयर, बहुत सारे वायरस डाउनलोड हो जाते हैं जो हमारे कंप्यूटर पर भी अटैक कर सकते हैं.

free antivirus ठीक तरीके से सुरक्षा प्रदान नहीं करते हैं paid एंटीवायरस में जो जो सुरक्षा हमें मिलता है यह जितना secure तरीके से सुरक्षा देता है वह एक फ्री एंटीवायरस हमें नहीं दे पाता है इसलिए हमें फ्री एंटीवायरस  कभी भी use नहीं करना चाहिए.

अगर आप अपने कंप्यूटर को सिक्योर करके रखना चाहते हैं या अपने कंप्यूटर पर इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं तो paid antivirus का इस्तेमाल करें फ्री का इस्तेमाल मत करें.


2.#  क्या क्या protection मिला चैक करे

जब भी आप मार्केट से एंटीवायरस खरीदते हैं तो सबसे पहले उसमें आप यह रीड करें यह जान ले कि इस एंटीवायरस से हमें क्या-क्या protection  मिल रहा है. एंटीवायरस में क्या क्या protection मिल रहा है  उसके पैकेट में भी लिखा रहता है.  आप जिस शॉप से खरीद रहे है उसके मालिक से भी यह जानकारी ले सकते हैं और यह पूछ सकते हैं कि इस एंटीवायरस में क्या-क्या security मिलेगा या आप उस के पैकेट से भी पढ़ सकते हैं.

इस तरह से आप यह निर्धारित कर सकते हैं कि आपके लिए क्या-क्या एंटीवायरस बेस्ट है इसमें क्या-क्या security मिल रहा है इसे खरीदना चाहिए या नहीं तो यह जरूर ही जांच लें कि जिस एंटीवायरस को आप ले रहे हैं उसमें क्या-क्या है.


3.# Use करने में आसान हो

यह एक और पॉइंट है जो हमें एंटीवायरस लेते समय ध्यान रखना चाहिए कि वह एंटीवायरस का dashboard यूज करने में बहुत ही आसान हो उस एंटीवायरस को अपडेट करना बहुत ही आसान हो. अपने कंप्यूटर को स्कैन करना कंप्यूटर के फाइल स्कैन करना बहुत ही easy हो.

यह सब  ध्यान में रख कर ले.  आपने कभी किसी अपने फ्रेंड को antivirus से scan करते हुए देखा होगा और उसके एंटीवायरस सॉफ्टवेयर को देखा होगा कि उसका इंटरफेस कैसा है उस हिसाब से आप यह तय कर ले कि वह एंटीवायरस आप को यूज करने में बड़ी आसानी हो जिसे आप यूज कर सकते हो उसी एंटीवायरस को आप अपने कंप्यूटर के लिए चुने.


4.#  बहुत कम system load हो

कम system load हो ऐसा एंटीवायरस चुनना बहुत ही जरूरी है कभी-कभी ऐसा होता है कि हमारे कंप्यूटर की ram कम होती है और हमारे कंप्यूटर में बहुत सारे सॉफ्टवेयर installed रहते हैं लेकिन एंटीवायरस को इंस्टॉल करने के बाद इसमें डाटा स्टोर होते जाता है जिसकी वजह से सिस्टम भी लोड लेता है और अच्छे से RUN नहीं कर पाता है तो जब भी आप ऐसा कोई सॉफ्टवेयर खरीदें तो यह चेक कर ले बहुत ही कम सिस्टम load लेने वाला softwere हो ऐसे ही सॉफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर पर install करें.

जो बहुत ही कम लोड लेकर कंप्यूटर पर रन कर सके कभी भी ऐसे सॉफ्टवेयर को store ना करें जो बहुत ही ज्यादा space लेता हो. अगर आपके pc का ram  ज्यादा है तभी आप heavy softwere  को इंस्टॉल करें नहीं तो कंप्यूटर हैंग करने लग जाता है एंटीवायरस लेते समय इस point को ध्यान देना बहुत ही जरूरी है.


5.#  Best web protaction देता हो

सबसे main point यही है, web protection इसलिए जरूरी है क्योंकि आजकल सभी लोग इंटरनेट के द्वारा बहुत सारे सॉफ्टवेयर या बहुत सारे फाइल को डाउनलोड करते हैं लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि वेब से फाइल डाउनलोड करने के साथ-साथ कई सारे virus हमारे कंप्यूटर पर भी आ सकते हैं.

अगर आपके कंप्यूटर में अच्छे तरीके का एंटीवायरस है तो वह एंटीवायरस आपके कंप्यूटर पर उस virus को आने से रोक देता है तो आपके कंप्यूटर में virus attek होने से बच जाते हैं तो जब भी एंटीवायरस खरीदे इस ऑप्शन को ध्यान में रखकर कि वह बेहतर internet सुरक्षा देता हो.


6.#  अपनी जरुरत के हिसाब से ले

यह देखना भी बहुत जरूरी है कि आपको antivirus security किस  स्तर का चाहिए या आपकी जरूरत क्या है अगर आप बहुत ज्यादा इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और बहुत सारे फाइल्स को इंटरनेट की मदद से डाउनलोड करते हैं या अपने कंप्यूटर पर किसी onther के memory card , hard drive हो मोबाइल हो, इन सभी को अटैच करते हैं तो आपको अच्छे तरीके वाला अच्छी क्वालिटी वाले एंटीवायरस अपनी कंप्यूटर पर इंस्टॉल करना होगा,

 लेकिन अगर आपको इन सभी की जरूरत बहुत ही कम पड़ती हैं तो आप एक सिंपल क्वालिटी वाला एंटीवायरस यूज कर सकते हैं अगर आप इन सब का इस्तेमाल बहुत ही कम करते हैं या नहीं करते हैं तो आप एक सिंपल क्वालिटी के antivirus कंप्यूटर पर use यूज कर सकते हैं.

अंतिम शब्दों में -

इस पोस्ट से हमने जाना 

best antivirus ka selection kaise kare 


antivirus nahi hone par kya hota hai 


antivirus hone se kya kya fayda hota hai



दोस्तों अगर आप एंटीवायरस खरीदते समय इन सभी पॉइंट को ध्यान में रखकर एंटीवायरस लेते हैं तो कभी भी आपके कंप्यूटर पर virus की संभावना नहीं रहेगी या बहुत ही कम रहेगा.

इन जानकारियों को भी पढ़े 


इंटरनेट से आपके कंप्यूटर पर वायरस फाइल डाउनलोड नहीं होगा या वायरस अटैक्स से बचा सकते हैं अपने कंप्यूटर पर आने वाले हैंगिंग प्रॉब्लम से या ऐसे बहुत सारा error से यह एंटीवायरस आपको सुरक्षा प्रदान करेगा.

इसलिए इन सभी नजरिए से देखा जाए तो कंप्यूटर पर एंटीवायरस का होना बहुत ही जरूरी है अगर अभी तक आपने अपने कंप्यूटर के लिए एंटीवायरस नहीं खरीदा है या एंटीवायरस खरीदने का सोच रहे हैं तो इन सब point को ध्यान में रखकर ही एंटीवायरस खरीदें तभी आप एक बेस्ट एंटीवायरस का चयन कर सकते हैं

दोस्तों अगर इस पोस्ट में दिए गए जानकारी संबंधी आपके कोई सवाल होंगे तो आप अपने सवाल हमें कमेंट बॉक्स पर कमेंट करके शेयर कर सकते हैं यह पोस्ट अच्छा लगा होगा तो नीचे दिए गए सोशल मीडिया आईकॉन से आप अपने दोस्तों को भी इसे शेयर कर सकते हैं.




No comments:

Post a Comment